एमजे अकबर की ‘घर’ वापसी, सौजन्य ज़ी मीडिया समूह

यौन उत्पीड़न के आरोपों के बाद इस्तीफा देने वाले पूर्व केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर, जी मीडिया ग्रुप के चैनल वॉयन की संपादकीय मीटिंग में हिस्सा ले रहे हैं.

WrittenBy:तनिष्का सोढ़ी
Date:
Article image
  • Share this article on whatsapp

बता दें कि अकबर और चंद्रा दोनों का राजनीतिक संबंध बीजेपी से रहा है. वह राज्यसभा के सांसद हैं. अकबर ने साल 2016 में मीडिया मुगल (सुभाष चंद्रा) की जीवनी का विमोचन किया था.

साल 2018 में जब अकबर के साथ काम करने वाली प्रिया रमानी समेत कई महिलाओं ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया तो उन्हें विदेश राज्यमंंत्री के पद से इस्तीफा देना पड़ा था. मंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद अकबर ‘ओपन मैगजीन’ के लिए लिखते हैं.

पिछले हफ्ते, दिल्ली हाईकोर्ट ने रमानी को एक नोटिस जारी किया है. यह नोटिस अकबर द्वारा रमानी को आपराधिक मानहानि मामले में बरी होने के फैसले को चुनौती देने के बाद जारी किया गया.

जब न्यूज़लॉन्ड्री ने वॉयन में उनकी नई भूमिका के बारे जानने के लिए अकबर को संपर्क किया तो उन्होंने कहा, “वह इस बारे में कोई बात नहीं करना चाहते.” उन्होंने इसके बारे में चंद्रा और चौधरी से पूछने के लिए कहा.

इसके बाद हमने सुधीर चौधरी को फोन कॉल और मैसेज किए, लेकिन उन्होंने भी हमें कोई जवाब अभी तक नहीं दिया है. हमने उन्हें और चंद्रा दोनों को ईमेल कर अकबर की नियुक्ति और चैनल में उनकी भूमिका की पुष्टि के बारे में सवाल किया है. जवाब आने पर इस रिपोर्ट में जोड़ दिया जाएगा.

इस खबर को अंग्रेजी में पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.

न्यूज़लॉन्ड्री के स्वतंत्रता दिवस ऑफ़र्स के लिए यहां क्लिक करें.

Also see
article imageजंतर मंतर पर पत्रकार से धक्का-मुक्की और जबरदस्ती "जय श्रीराम" के नारे लगवाने की कोशिश
article imageपेगासस मामला: बंगाल सरकार द्वारा बनाए गए जांच आयोग पर सुप्रीम कोर्ट का नोटिस

You may also like