मुस्लिम महिलाओं का नंबर और पता सार्वजनिक करने वाला कुनाल कहां है?

कुनाल शर्मा नाम के युवक ने सोशल मीडिया पर मुस्लिम महिलाओं की सूची तैयार कर उनके फोन नंबर और पते सार्वजनिक किए.

मुस्लिम महिलाओं का नंबर और पता सार्वजनिक करने वाला कुनाल कहां है?
  • whatsapp
  • copy

कुनाल शर्मा की प्रोफाइल पर उनकी तस्वीर लगी है. इस तस्वीर में वो श्रृंगी यादव के साथ खड़े दिखाई दे रहे हैं. बता दें कि यति नरसिंहानंद सरवस्वती का शिष्य श्रृंगी यादव कुछ महीने पहले मीडिया की नज़र में आया था. श्रृंगी यादव ने उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद के डासना में शिव शक्ति धाम मंदिर परिसर में एक प्यासे मुस्लिम बच्चे के साथ मंदिर में पानी पीने को लेकर मारपीट की थी. जिसके बाद उसकी गिरफ्तारी हुई लेकिन अब जमानत पर बाहर है. कुनाल शर्मा की श्रृंगी यादव के साथ तस्वीर सामने आते ही सोशल मीडिया प्लेटफार्म ट्विटर पर यूज़र्स ने गाज़ियाबाद पुलिस को टैग करना शुरू कर दिया.

श्रृंगी यादव के साथ कुनाल

श्रृंगी यादव के साथ कुनाल

इसके बाद गाज़ियाबाद पुलिस ने मामले का संज्ञान लेते हुए एक बयान जारी किया और कहा कि यह मामला दिल्ली पुलिस का है. बयान में लिखा गया, "सोशल मीडिया पर एक युवक द्वारा की गई आपत्तिजनक पोस्ट का संबंध जनपद गाज़ियाबाद से बताते हुए वायरल किया जा रहा है. आपत्तिजनक पोस्ट का तुरंत संज्ञान लेते हुए प्रकरण के संबंध में जांच की गई तो यह तथ्य प्रकाश में आया कि आपत्तिजनक पोस्ट करने वाला युवक दिल्ली का रहने वाला है. आवश्यक कार्रवाई हेतु दिल्ली पुलिस को सूचित किया गया है."

मामले में अब तक क्या हुआ यह जानने के लिए न्यूज़लॉन्ड्री ने गाज़ियाबाद एडिशनल एसपी इराज राजा से बात की. उन्होंने बताया, "गाज़ियाबाद से इस मामले का कोई संबंध नहीं है. हमने दिल्ली पुलिस को सूचना दे दी है. लड़का शाहदरा का रहने वाला है." दिल्ली पुलिस के किस विभाग या थाने को मामला सौंपा गया है? इस सवाल पर इराज राजा कहते हैं, "हमने दिल्ली पुलिस को केस ट्रांसफर कर दिया है. दिल्ली का अपना सिस्टम है जो गाज़ियाबाद से अलग है. मैं पक्के तौर पर कुछ नहीं कह सकता मामला किसको ट्रांसफर किया गया है."

जब हमने डीसीपी शाहदरा से बात की तो उन्होंने बताया कि ऐसा कोई मामला उनके पास नहीं आया है.

न्यूज़लॉन्ड्री ने दिल्ली पुलिस साइबर सेल से बात की. यहां मौजूद राजीव कहते हैं, "हमें इस मामले का नहीं पता. 'सुल्ली डील्स' वाला मामला ज़रूर आया था. लेकिन कुनाल शर्मा के मामले के बारे में हमें कोई जानकारी नहीं है."

न्यूज़लॉन्ड्री ने सूची में लिखे नाम सादिया और सारा से बात की है. बरेली की रहने वाली 24 वर्षीय सारा (बदला नाम) दिल्ली में अपने रिश्तेदारों के साथ रहती हैं. कुछ दिन पहले उन्हें एक संदिग्ध कॉल आया था. सारा कहती हैं, "करीब दो हफ्ते पहले मुझे के व्यक्ति का यूहीं कॉल आया था. उसने मुझे बताया था कि मेरा फोन नंबर सोशल मीडिया पर है. इससे ज़्यादा उसने मुझे कोई जानकारी नहीं दी. मैं किसी कुनाल शर्मा को नहीं जानती."

36 वर्षीय सादिया (बदला नाम) शादीशुदा हैं. उनका मोबाइल फोन ज़्यादातर उनके पति के पास ही रहता है. सादिया को इसकी बिलकुल जानकारी नहीं है कि उनका नंबर सार्वजनिक किया गया है. "मुझे इसकी भनक नहीं है कि मेरा मोबाइल नंबर इस तरह सोशल मीडिया पर घूम रहा है. मेरा मोबाइल फोन मेरे पति के पास रहता है. कभी- कभार मैं ले लेती हूं. अगर ऐसा वैसा कोई कॉल आया भी होगा तो मुझे नहीं पता. मैं शाहदरा की रहने वाली हूं लेकिन किसी कुनाल शर्मा को नहीं जानती." सादिया ने कहा.

अदब ए हिन्दुस्तान के ट्विटर हैंडल से भी यह सूची जारी की गई थी. जारी करने वाले अदब न्यूजलॉन्ड्री से बातचीत में कहते हैं, "करीब डेढ़ महीने पहले मुझे उसके (कुनाल शर्मा) बारे में पता चला था. कुछ दोस्तों ने मुझे बताया कि वह कुछ लोगों से मुस्लिम लड़कियों का नंबर मांग रहा है और बदले में कुछ नंबर भी दे रहा है. तब से हम उस पर नजर रख रहे थे."

मामला 12 जुलाई को यह कहकर गाज़ियाबाद पुलिस द्वारा ट्रांसफर किया गया था कि इस पर दिल्ली पुलिस आगे की कार्रवाई करेगी. लेकिन मामला किस विभाग और थाने को दिया गया इसकी जानकारी किसी को भी नहीं है. मुस्लिम महिलाओं पर आपत्तिजनक टिप्पणी और उनकी पहचान सार्वजनिक करने का आरोपी कुनाल शर्मा कहां है इसका किसी को पता नहीं है.

Also Read :
दुर्भाग्यपूर्ण है कि भोपाल गैस हादसे के चार दशक बाद भी प्रोसेस सेफ्टी रेग्युलेशन में नहीं हुआ सुधार
किसान नेताओं में चुनाव लड़ने को लेकर दो मत, आंदोलन में पड़ सकती है दरार
newslaundry logo

Pay to keep news free

Complaining about the media is easy and often justified. But hey, it’s the model that’s flawed.

You may also like