ऑक्सीजन के लिए दिनभर अस्पतालों के चक्कर काटने के बाद बुजुर्ग की मौत

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दावा कर रहे हैं कि प्रदेश में ऑक्सीजन और बेड की कोई कमी नहीं है लेकिन गाजियाबाद में ऑक्सीजन की कमी से लोगों की मौत हो रही है.

WrittenBy:बसंत कुमार
Date:
   
  • Share this article on whatsapp

न्यूज़लॉन्ड्री की टीम गाजियाबाद के राजकीय जिला अस्पताल में पहुंची. वहां हालत यह है कि लोगों का कोविड टेस्ट तक भी नहीं हो पा रहा है. लोग सुबह 7:00 बजे से लाइन में लगे और दोपहर 2:00 बजे तक लाइन में खड़े रहे और आखिर में अस्पताल प्रशासन ने कह दिया, "टेस्ट करने का साधन हमारे पास मौजूद नहीं है. आप लोग कल आइएगा."

यहां हमारी मुलाकात मुरादनगर विधानसभा के आम आदमी पार्टी के अध्यक्ष अजय पारचा से हुई. अजय अपने मौसा यशपाल को लेकर भटक रहे थे. जिला अस्पताल में उनके मौसा को किसी ने नहीं देखा. दिनभर भटकने के बाद शाम 5:00 बजे के करीब उनका निधन हो गया.

गाजियाबाद के अलग-अलग इलाकों में घूमने के बाद न्यूज़लॉन्ड्री ने पाया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का यह दावा बिल्कुल ही गलत है कि प्रदेश में ऑक्सीजन और बेड की कोई कमी नहीं है.

Also see
article imageक्या हैं कोविड से जुड़े नए प्रोटोकॉल और गाइडलाइंस?
article imageकोविड, लाचारी की मौत और बुलडोज़र

You may also like