सलमान खुर्शीद के नैनीताल स्थित घर पर आगजनी और तोड़फोड़

सलमान खुर्शीद द्वारा फेसबुक पर साझा किए गए पोस्ट में उनके नैनीताल वाले घर में लंबी लपटें, जले हुए दरवाजे और टूटे हुई खिड़की दिखाई दे रही हैं.

सलमान खुर्शीद के नैनीताल स्थित घर पर आगजनी और तोड़फोड़
  • whatsapp
  • copy

सोमवार को कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद के नैनीताल स्थित घर में तोड़फोड़ की गई व उसमें आग लगा दी गई. माना जा रहा है कि यह हिंसा उनकी नई किताब को लेकर हंगामे के कारण हुई है. कहा जा रहा है कि सलमान खुर्शीद ने अपनी किताब ‘सनराइज ओवर अयोध्या: नेशनहुड इन आवर टाइम्स' में कथित तौर पर हिंदुत्व की तुलना आतंकवादी समूहों बोको हरम और आईएसआईएस से की है. तब से खुर्शीद हिंदू संगठनों के निशाने पर हैं. अब इस किताब को लेकर जगह-जगह विवाद हो रहा है.

सलमान खुर्शीद ने फेसबुक पर पोस्ट कर इस घटना की जानकारी दी. उन्होंने कुछ वीडियो और तस्वीरें साझा की जिसमें दिखाई पड़ता है कि उनके घर के बाहर आग लगी हुई है जिसे कुछ लोग बुझाने की कोशिश भी करते हुए नर आ रहे हैं.

कुमाऊं डीआईजी नीलेश आनंद ने बताया कि इस संबंध में राकेश कपिल समेत 21 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी."

इस घटना पर कई नेताओं ने ट्वीट कर निदा की है. कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने ट्वीट कर कहा, "यह शर्मनाक है. सलमान खुर्शीद एक राजनेता हैं जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय मंचों पर भारत को गौरवान्वित किया है और हमेशा घरेलू स्तर पर देश के एक उदारवादी, मध्यमार्गी, समावेशी दृष्टिकोण को व्यक्त किया है. हमारी राजनीति में असहिष्णुता के बढ़ते स्तर की सत्ता में बैठे लोगों को निंदा करनी चाहिए."

बता दें कि हाल ही में प्रकाशित उनकी किताब पर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. इस किताब को लेकर सलमान खुर्शीद के खिलाफ देश के अलग-अलग राज्यों में केस दायर किए गए हैं. हाल ही में सलमान खुर्शीद के खिलाफ जयपुर कोतवाली पुलिस थाने में केस दायर हुआ था. वकील भरत शर्मा ने अपनी शिकायत में कहा है कि खुर्शीद की किताब धार्मिक भावनाओं को आहत करने वाली है.

बीते गुरुवार को भाजपा नेता राम कदम ने भी इस किताब को लेकर मुंबई के घाटकोपर पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई थी. वहीं 13 नवंबर को हिंदू सेना के अध्यक्ष विष्णु गुप्ता ने दिल्ली हाई कोर्ट में मुकदमा दायर किया था. विष्णु गुप्ता ने न्यूज़लॉन्ड्री से कहा, "समाज के एक बड़े वर्ग की भावनाओं को आहत करने के लिए पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद की पुस्तक के प्रकाशन, प्रसार और बिक्री को रोका जाना चाहिए." हालांकि विष्णु ने नैनीताल में सलमान खुर्शीद के घर पर हुए हमले से पल्ला झाड़ते हुए कहा कि उनके संगठन की इसमें कोई भूमिका नहीं है.

सलमान खुर्शीद की इस किताब ‘सनराइज ओवर अयोध्या-नेशनहुड इन आवर टाइम्स’ का उद्घाटन 10 नवंबर को इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में किया गया था. इस दौरान कांग्रेस राज्य सभा सांसद दिग्विजय सिंह, कांग्रेस नेत्री रागिनी नायक, पूर्व केंद्रीय मंत्री पी.चिदंबरम, आचार्य प्रमोद कृष्णम, पत्रकार शोमा चौधरी और प्रोफेसर अपूर्वानंद मौजूद थे.

वहीं इससे पहले इंडिया टुडे को दिए इंटरव्यू में कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने सलमान खुर्शीद पर उभरे विवाद पर कहा था, "कांग्रेस पार्टी किसी व्यक्तिगत राय पर टिप्पणी नहीं करेगी. भाजपा नेता हर दिन कांग्रेस नेतृत्व के खिलाफ सबसे अभद्र शब्दों का प्रयोग करते हैं."

हिंदुत्व को आतंकवादी संगठन आईएसआईएस की तुलना को लेकर सुरजेवाला कहते हैं, "हिंदुत्व नाम की कोई चीज नहीं है. मैं समग्र हिंदू धर्म को समझता हूं. भाजपा की हिंदुत्व की संकीर्ण परिभाषा हिंदू धर्म नहीं है. पार्टी के पास आक्रामकता से प्रेरित कई संगठन हैं. उन्होंने पत्रकारों, कार्यकर्ताओं और विद्वानों के खिलाफ हिंसा का इस्तेमाल किया है. वे भाजपा की मूल विचारधारा के रूप में वर्णित की आड़ में नफरत को मंजूरी देने की कोशिश कर रहे हैं. यह हिंदुत्व नहीं है."

किताब पर छिड़े इस विवाद के बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, खुर्शीद के समर्थन में नजर आए. राहुल कहते हैं, "हम कहते हैं हिंदू धर्म और हिंदुत्‍व में फर्क है. क्‍योंकि अगर फर्क नहीं होता तो नाम ही एक होता. हिंदुत्‍व को हिंदू की जरूरत नहीं होती या हिंदू को हिंदुत्‍व की जरूरत नहीं होती."

इस घटना पर हमने सलमान खुर्शीद से भी बात करने की कोशिश की. हालांकि उनसे हमारा संपर्क नहीं हो सका.

Also Read :
सरकारी पैसों से पीएम मोदी की रैली में भीड़ जुटाने की तैयारी
अमेरिकी पत्रकार डैनी फेनस्टर को म्यांमार ने किया रिहा
newslaundry logo

Pay to keep news free

Complaining about the media is easy and often justified. But hey, it’s the model that’s flawed.

You may also like