दिल्ली में तीन मीडियाकर्मी कोरोना पॉजिटिव

इनमें से एक फ्रीलांसर फोटोग्राफर, एक समाचार एजेंसी से जुड़े कर्मचारी और तीसरे एक टीवी चैनल से जुड़े कैमरामैन बताए जा रहे हैं.

दिल्ली में तीन मीडियाकर्मी कोरोना पॉजिटिव
  • whatsapp
  • copy

राजधानी दिल्ली में मीडिया संस्थान से जुड़े तीन लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए है. इनका टेस्ट बीते 23 अप्रैल को हुआ था.

मुंबई और देश के अलग-अलग हिस्सों में मीडिया संस्थानों से जुड़े लोगों का कोरोना पॉजिटिव आने के बाद दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार से यहां के पत्रकारों की जांच कराने की मांग की गई थी. इसके बाद दिल्ली में भी पत्रकारों का कोरोना टेस्ट कराने का फैसला लिया गया था.

22 अप्रैल से दिल्ली सरकार ने पटेल नगर के एक होटल में पत्रकारों के लिए टेस्ट की शुरुआत की गई थी. जिसकी जानकारी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने ट्वीट के जरिए दिया था.

पश्चिमी दिल्ली की मुख्य जिला चिकित्सा अधिकारी सुनीता प्रसाद ने न्यूज़लॉन्ड्री को बताया, ‘‘अब तक लगभग 350 पत्रकारों का कोरोना टेस्ट हुआ है जिसमें से तीन लोग पॉजिटिव पाए गए हैं. बाकी लोगों की रिपोर्ट निगेटिव है.’’

जिन तीन लोगों का कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया हैं उसमें एक फ्रीलांस फोटोग्राफर, एक समाचार एजेंसी से जुड़े कर्मचारी और तीसरे एक टीवी चैनल से जुड़े कैमरामैन बताए जा रहे है. फ्रीलांसर फोटोग्राफर कई अलग-अलग संस्थानों के लिए फोटोग्राफी करते थे. बताया जा रहा है कि इन्हें नजफगढ स्थित एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

जिस समाचार एजेंसी के कर्मचारी का टेस्ट पॉजिटिव आया है उसके एक सीनियर अधिकारी ने न्यूजलॉन्ड्री को बताया, ‘‘जिस कर्मचारी का पॉजिटिव आया है उसमें कोरोना का कोई लक्षण नहीं था. वे यहां नाइट शिफ्ट में काम करते थे जिस वजह से उनका बहुत कम लोगों से मिलना-जुलना होता था. जैसे ही हमें रिपोर्ट मिली वैसे ही हमने उन्हें क्वारंटाइन में भेज दिया है. इसके अलावा पिछले सात दिनों में वो किससे मिले थे, किसके संपर्क में थे, यह सब जानकारी भी हमने उनसे ली है. दफ्तर में जिन-जिन से वो मिले थे हमने सबको क्वारंटाइन कर दिया है. उनकी टेस्टिंग आज नहीं तो कल सुबह की जाएगी. इसके अलावा हमारे यहां कोरोना से कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए तमाम इंतजाम जनवरी महीने में ही किए गए हैं.’’

मुंबई में पत्रकारों पर कोरोना की मार

24 मार्च को पहली बार जब केंद्र सरकार ने लॉकडाउन की घोषणा की तो पत्रकारों को पूर्ववत अपना काम जारी रखने की छूट दी गई थी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी पत्रकारों को इस कठिन स्थिति में काम करने के लिए बधाई दी है. उन्होंने पत्रकारों को भी तमाम सुरक्षा उपकरण इस्तेमाल करने की सलाह दी थी. इसके बाद भी कई पत्रकार इसकी चपेट में आ गए है.

सबसे ज्यादा कोरोना की चपेट में मुंबई में काम करने वाले पत्रकार आए. यहां भी बीएमसी ने कैंप लगाकर पत्रकारों की अलग से जांच कराई थी.

20 अप्रैल को नवभारत टाइम्स में छपी रिपोर्ट के अनुसार मुंबई में 53 पत्रकार कोरोना से संक्रमित पाए गए इनमें से किसी में कोरोना का कोई लक्ष्ण नहीं था. इनमें से ज्यादातर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया से जुड़े हुए पत्रकार हैं.

देश में सबसे ज्यादा अभी कोरोना संक्रमित महाराष्ट्र में ही है. वहां अब तक कोरोना के 7628 मरीज आए हैं जिसमें से 323 लोगों की मौत हो चुकी है.

भारत में 26 अप्रैल तक कोरोना मरीजों की संख्या 26,479 पहुंच गई है. जिसमें मरने वालों की संख्या 827 है. वहीं अगर दिल्ली की बात करें तो यहां संक्रमित लोगों की संख्या 2,625 हो गई है जिसमें मृतकों की संख्या 54 है.

( इस खबर को अपडेट किया गया है )

Also Read :
कोरोना टेस्ट: यूपी के पत्रकारों की जांच में उलझे कई पेंच
newslaundry logo

Pay to keep news free

Complaining about the media is easy and often justified. But hey, it’s the model that’s flawed.

You may also like