‘मंगलसूत्र छिन जाने’ और ‘मुस्लिमों को संपत्ति बांटे जाने’ पर क्या सोचते हैं बिहार के युवा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस बयान का कुछ लोग समर्थन कर रहे हैं तो कुछ लोग विरोध कर रहे हैं. 

WrittenBy:अनमोल प्रितम
Date:
   

लोकसभा चुनाव के तीन चरणों का मतदान हो चुका है. जल्द ही चौथे चरण के लिए मतदान होना है. इस बीच चुनाव में एक बार फिर हिंदू-मुसलमान और पाकिस्तान के नैरेटिव की एंट्री हो चुकी है. साथ ही इस बार प्रधानमंत्री की ओर से ‘मंगलसूत्र छीने जाने’ और ‘मुस्लिमों को संपत्ति बांटने’ जैसे दावे होने लगे हैं. 

दरअसल, हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजस्थान में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि अगर कांग्रेस सत्ता में आती है तो वह महिलाओं से मंगलसूत्र भी छीन लेगी. साथ ही उन्होंने कहा कि कांग्रेस लोगों की संपत्ति छीनकर ज्यादा बच्चे पैदा करने वालों के दे देगी. साफतौर पर प्रधानमंत्री का इशारा (ज्यादा बच्चे पैदा करने वालों) मुस्लिमों की ओर था.  

हालांकि, प्रधानमंत्री के इस बयान की काफी आलोचना हुई. भाजपा समर्थित लोगों ने उनका बचाव भी किया. दूसरी ओर कांग्रेस ने भी प्रधानमंत्री के इस बयान को लेकर उन पर तीखा हमला बोला. 

इस सियासी घमासान के बीच बिहार के युवा प्रधानमंत्री के इस बयान पर क्या सोचते हैं, ये जानने के लिए हमने पटना के गांधी मैदान में कुछ लोगों से बात की. देखिए ये वीडियो रिपोर्ट.

आम चुनावों का ऐलान हो चुका है. एक बार फिर न्यूज़लॉन्ड्री और द न्यूज़ मिनट के पास उन मुद्दों पर ध्यान केंद्रित करने के लिए सेना प्रोजेक्ट्स हैं, जो वास्तव में आपके लिए मायने रखते हैं. यहां क्लिक करके हमारे किसी एक सेना प्रोजेक्ट को चुनें, जिसे समर्थन देना चाहते हैं. 

Also see
article imageलोकसभा चुनाव: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘नॉनवेज कार्ड’ का वोटरों पर कितना असर?
article imageलोकसभा चुनाव: सांप्रदायिकता, रोजगार, महिला सुरक्षा या भ्रष्टाचार, क्या हैं कलकत्ता के मुद्दे? 

Comments

We take comments from subscribers only!  Subscribe now to post comments! 
Already a subscriber?  Login


You may also like